WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Page Join Now

क्या होगा पर्सनल लोन न चुकाने पर , 2023 में लागू ये नए नियम

हमारे जरूरतों को पूरा करने के लिए हमे कई बार लोन लेने की जरूरत होती है। अगर आप लोन लेते है तो उसको आपको समय पर वापस भरना होता है। अगर आप लोन नहीं चुका पाते है तो उस स्तिथि मे आपके खिलाफ बैंक क्या एक्शन लेती है, यह जानना बेहद जरुरी है। इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि अगर आप अपना पर्सनल लोन न चुकाए तो क्या होगा –

पर्सनल लोन वापसी रूल्स

अगर दोस्तों आप भी किसी बैंक से पर्सनल लोन लेते है और आप किसी भी कारण आप अपना पर्सनल लोन वापस नहीं चुका पाते है तो उस स्तिथि मे आपके खिलाफ क्या कार्यवाही हो सकती है आज हम इसके बारे मे आपको आगे बताने वाले है |

मध्यप्रदेश लाड़ली बहना योजना ताज़ा खबर जल्द मिलेंगे 3,000 रूपये

तो दोस्तों आपके खिलाफ ये दो अलग-अलग स्तिथि मे हो सकती है जिसमे एक है  अगर आप किसी भी वित्तीय समस्या के चलते अपने पर्सनल लोन को वापस नही चूका पाते है और दूसरा जिस व्यक्ति के नाम पर लोन है और उस व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है। तो दोनों स्तिथि मे कार्यवाही अलग – अलग हो सकती है।

पर्सनल लोन न चुकाने पर कार्यवाही

व्यक्ति ने किसी भी बैंक से लोन लिया है और उस लोन को वापस चुकाना है और उस व्यक्ति द्वारा लोन की रकम को बापस नही कर पता है तो ऐसी स्तिथि मे बैंक पहले सबसे आपसे उस लोन को वापस चुकाने के लिए कहेगी।

Apply Now

Organic Farming Portal 2024

अगर फिर भी लोन की राशि को चुकाने मे असमर्थ रहता है तो उस स्तिथि मे बैंक के पास अधिकार रहता है के लोन के पैसे वसूल करने के लिए बैंक कानूनी मदद ले सकता है। इसमे आपको अदालत की तारफ से एक जनरल नोटिस भेजा जाता है और उस नोटिस में आपको लोन चुकाने के लिए कुछ समय दिया जाता है ताकि वो लोन की राशि वसूल कर सके।

फ्री गैस कनेक्सन फॉर्म रिजेक्ट रिजेक्ट देखे

अगर आपके पास कोई सम्पति है जिससे आप बैंक का लोन चूका सकते है तो उस स्तिथि मे आपकी सम्पति पर बैंक अधिकार कर लेती है और उसके बाद बैंक आपकी उस सम्पति को बेच कर आपकी लोन की राशि को वसूल करती है।

लोन लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो क्या कार्यवाही होगी

अगर किसी आवेदक की जिसने लोन लिया है उसकी मृत्यु हो जाती है तो उस स्तिथि मे उस आवेदक का उत्तराधिकारी उस लोन को चुकाते है। ऐसे मे अगर उत्तराधिकारी उस लोन की राशि को चुकाने मे असमर्थ रहता है तो उसकी सम्पति को नीलाम कर उसके पैसो को वसूल किया जा सके।

Aadhar Card Loan: आधार कार्ड से आये 2 लाख रुपये बिना ब्याज के

पर्सनल लोन न चुकाने से जुड़े नियम –
  • अगर आप बैंक से लोन लेते है और बैंक के लोन रिकवर अगेनेट आपको धमकाते है या पडताना देते है या आपके रिश्तेदार को धमकाते है तो ऐसी स्तिथि मे आप कानून की सहायता ले सकते है। आप पुलिस मे इसकी शिकायत दर्ज कर सकते है।
  • अगर आप लोन लेते है और आपके पास गाडी या आपकी सम्पति पर बैंक अधिकार करता है तो ऐसी स्तिथि मे बैंक या बैंक के रिकवरी एजेंट पुलिस की मदद से आपकी गाडी ले सकती है और साथ ही आपकी सम्पति पर भी अधिकार कर सकती है।
  • इसके अलावा बैंक आपसे और आपकी उत्तराधिकारी से और भी कई तरह से वसूल कर सकती है परन्तु कानून की मदद से ना की किसी अन्य तरीके से।

किसान क्रेडिट कार्ड से क्या सुविधा मिलती है देखे

Apply Now

पर्सनल लोन कैसे लें

किसी भी बैंक से पर्सनल लोन लेने के लिए आपको सबसे पहले आपके पास कुछ जरुरी दस्तावेज और कुछ पात्रताओ का होना भी बेहद जरुरी है। पर्सनल लोन लेने की लिए यह सभी दस्तावेजों का होना जरुरी है –

  • लोन लेने के लिए आवेदक के पास अपना बैंक का पिछले 3 माह का बैंक स्टेटमेंट होना चाहिए।
  • आवेदक के पास अपना खुद का आईटीआर होना जरुरी है।
  • इसके साथ ही आपकी सिबिल भी अच्छी होनी चाहिए जिससे बैंक आपको लोन आसानी से दे सके |
  • आवेदन पत्र के साथ आपको ये जरूरी दस्तावेज जैसे आधार कार्ड और पहचान पत्र देना जरुरी होता है।
  • आपको आवेदन पत्र के साथ बिजली बिल, लाइट बिल या कोई एक मूल निवास प्रमाण पत्र या इनमे से कोई एक को जमा करवाना होता है।
  • इसके अलावा आवेदक के पास अपना एक बैंक अकाउंट उस बैंक मे होना चाहिए जिस बैंक से वो पर्सनल लोन लेना चाहता है।

लाडली बहना योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें

लोन रिकवरी के सम्बन्ध मे आरबीआई की गाइडलाइन –

RBI की गाइडलाइन का सीधा सा मतलब है कि बैंक द्वारा जो भी एजेंट को नियूक्त किया जाता है उस एजेंट का केवल एक ही कम होता है कि ग्राहक को लोन की किश्तों को भरने के लिए मनना 

इस पर आरबीआई की विशेष टिप्पणी और यह एक आदेश भी है जो जिसका पालन बैंक को करना जरुरी है। इसके अलावा बैंक किसी भी गलत तरीके का इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

सवाल – अगर हम पर्सनल लोन नहीं चुका पा रहे हैं तो क्या होगा?

 जवाब – बैंक गारंटर से वसूली कर सकता है

सवाल – लोन न चुकाने पर कितने साल की सजा होती है?

जवाब – अधिकतम सजा 7 वर्षों की है.

सवाल – लोन नहीं चुकाने पर क्या हो सकता है?

जवाब – बैंक ग्राहक को डिफॉल्डर घोषित कर देता है. जिससे ग्राहक का सिबिल/क्रेडिट स्कोर खराब हो जाता है

सवाल – कर्ज नहीं चुकाने के 7 साल बाद क्या होता है?

जवाब – आपका क्रेडिट स्कोर बढ़ना शुरू हो सकता है

“मैं आपकी किस तरह से मदद कर सकता हूं आप मुझे को बताएं”

— HD KHIRI, Website Host
अपने दोस्तों को शेयर करे

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Page Join Now